Become job ready with Ms excel - About Ms excel in hindi

 नमस्ते दोस्तों आज हम माइक्रोसॉफ्ट excel ke bare में बात करने वाले हैं और यह जानेंगे कि अक्सर होता क्या है इसे कैसे ओपन किया जाता है इसे इस्तेमाल कैसे किया जाता है इसका काम क्यों होता है और भी बहुत अगर आपको भी एक्सेल के बारे में यह सारी चीजें जानी है या कहे तो about ms excel in hindi  तो aap aaj  सही  जगह आए हैं आज हम किसी के बारे में चर्चा करेंगे तो चलिए शुरू करते हैं। 

About Ms excel in hindi


एक्सेल क्या होता है ?

 देखिए दोस्तों एक्शन एक एप्लीकेशन है या कहें तो सॉफ्टवेयर है जो कि माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा तैयार किया गया एक्सेल का मतलब होता है किसी चीज या किसी गतिविधि क्या किसी विषय में असाधारण रूप से अच्छा या कुशल होना जैसे आप लोग गढना  करने के लिए केलकुलेटर का इस्तेमाल करते हैं। 

उसीप्रकार एक्सेल में भी गणना की जाती है लेकिन केलकुलेटर में आपको इतनी सुविधाएं नहीं मिलती जितनी एक्सेल में मिलती है एक्सेल में गढ़ना  करने के अलावा और भी बहुत कार्य किए जाते हैं जो की  केलकुलेटर me nahi किए जा सकते आप ने यह सुना भी होगा कि डाटा एंट्री और स्प्रेडशीट  बनाने का काम एक्सेल में ही होता है 

और इसीलिए ऑफिस में इस्तेमाल किया जाता है  एक्सेल एक bahut hi पॉपुलर सॉफ्टवेयर है जिसे स्कूल , कॉलेज में सिखाया भी जाता है। 

एक्सेल  का इस्तेमाल। 

 दोस्तों एक्सेल का वैसे तो बहुत जगह istamal kiya जाता है लेकिन हम मैनली दो जगह इसका इस्तेमाल  करते हैं:-

  1. १.  गढ़ना करना। 
  2.  २.   डाटा एनालिसिस। 

डाटा एनालिटिक्स में  bahut chiz है आती है टेबल आदि। 


Ms  excel को ओपन कैसे करे ?


Ms एक्सेल को ओपन करने के लिए आपको निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना है:-

  • स्टार्ट मेनू को ओपन का ले। 
  • यहाँ पर " Ms excel " सर्च करे। 
  • आपके samne  ms एक्सेल आ जायेगा aapko इस पर क्लिक करना है। 
  • अब आपका " Ms excel " खुल चूका होगा । 

Excel के फायदे। 


दोस्तों एक्सेल ke bahut sare फायदे है चलिए जानते है उनके बारे में -

१. डाटा को व्यव्स्तित रखना। 


दोस्तों एक्सेल में यह बात बहुत लाभकारी है कि उसमे हम अपने बड़े से बड़े डाटा को एक व्यवस्थित क्रम में रख सकते हैं वह भी एक स्प्रेडशीट, टेबल आदि केफॉर्म में। जो की  इसे ek bahut hi khash सॉफ्टवेयर बनाता है और इसीलिए आज इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल बहुत सारी दुकानों पर किया जाता है ताकि बिल बनाया जा सके। 

2. जल्दी गढ़ना करना। 


एक्सेल  में जब भी आप कोई भी गढ़ना  करते हैं तो वह तुरंत हो जाती है जैसे किसी  केलकुलेटर में होती है इससे आपका बहुत समयबच जाता है जैसे मान लीजिए agar aapएक स्प्रेडशीट बना रहे हैं तो बीच में अगर कोई गढ़ना आ जाये तो एक्सेल खुद ही kar deta है आपको कुछ करने की जरूरत नहीं पड़ती इसलिए एक्सेल को बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। 

3. Become job  रेडी। 


अगर  आप एक्सेल में एक्सपर्ट हो जाते हो तो आप डाटा एंट्री की फील्ड में जॉब पा सकते हो बास आपको एक्सेल में एक्सपर्ट होना पड़ेगा और यदि एक्सेल की khash baat hai ki agar  आपकी जॉब नहीं भी लगी तो आप फ्रीलांसिंग करके भी घर से पैसे कमा सकते हो। 





एक्सेल के मेनू। 


१. होम। 

दोस्तों होम मेनू में ज्यादातर जो डाटा हम लिखते है उनको एडिट करने के फीचर्स है चलिए जानते है उनके बारे में - 

  • क्लिपबोर्ड- दोस्तों इसमें आपको बेसिक चीज़े  मिलती hai jaise ki Cut , कॉपी ,पेस्ट  जोकि  आपने पहले इस्तेमाल की होंगी। 
  • फॉन्ट - दोस्त इसमें आपको टेक्स्ट को एडिट करने के सरे ऑप्शन  मिलते है जैसे की टेक्स्ट का फॉन्ट चेंज करना , साइज चेंज करना आदि। 

  • एलाइनमेंट- इसमें आपको टेक्स्ट तो कहा रखना है jaise left में या राइट में और कैसे रखना है जैसे जस्टिफाई में या और किसी में अदि चीज़े मिलती है। 

  • नंबर - इसमें आपको नंबर को एडिटkarne ke function मिलते है जैसे की नंबर को अगर करेंसी बनाना हो तो आप यहाँ से बनाते है। 

  • स्टाइल्स - इसमें आपको अगर kisi sale का स्टाइल चेंज करना है तो आप यहाँ से कर सकते है इसमें आपको सेल को स्टाइल देने के ऑप्शन मिलते है। 

  • सेल्स - अगर आपसे galti से कोई सेल छूट गया है और आप किसी जगह पर सेल इन्सर्ट करना चाहते है या लाना चाहते hai  तो आप यहाँ से ला सकते है। 

  • एडिटिंग - इसमें आपको फाइंड , रेप्लस  jaise  फंक्शन मिलते है और यदि आपको किसी सेल को क्लियर करना है तो यहाँ से कर सकते है। 

२. इन्सर्ट। 


  • टेबल - इन फंक्शन्स की मदद से आप pivotal टेबल और simple टेबल बना सकते है। 

  • इलस्ट्रेशन - इनमे आपको कोई स्पेशल चीज़ insertकरने के फीचर्स मिलते है जैसे की शपेस , इमेजे आदि। 

  • चार्ट्स - इस फंक्शन से आप kisi भी प्रकार के टेबल इन्सर्ट कर सकते है। 

  • लिंक- इसमें आपको option  मिलता है जिससे की आप किसी टेक्स्ट में लिंक लगा सकते है। 

  • टेक्स्ट- इसमें aapko  स्पेशल टेक्स्ट ऐड करने का  ऑप्शन मिलता है जैसे वर्ड आर्ट और सिंबल। 

३. पेज लेआउट। 


  • थीम्स -  इसमें आपको आपने शीट की थीम कैसी रखनी है vo इस फंक्शन में होती है। 

  • पेज सेटअप - इसकी मदद से आप अपने पेज को bada छोटा उसका साइज और मार्जिन decide  कर सकते है। 

  • स्केल तो फिट - इसमें आपको ऑप्शन मिलते hai  जिससे की आप अपने मनमुताबिक पेज ka  साइज क्रिएट कर सकते है। 

  • शीट ऑप्शन - इसमें आपको गाइडलाइन्स और हैडिंग ke ऑप्शन मिलते है। 

  • Arrange - इसमें आपको पेज को कैसे arrange करना है वो ऑप्शन मिलते है। 

4  फ़ॉर्मूलास। 


इसमें आपको फार्मूला को apply करने के सरे ऑप्शन मिलते है।  ये एक बहुत ही jaruri मेनू होता है। 

5. डाटा। 


इसमें आपको फंक्शन मिलता है  जिससे आप अलग अलग जगह से डाटा ले सकते है।  और उसे अपनी फाइल में इस्तेमाल कर सकते है जैसे की अगर आपको इंटरनेट पर से कोई फाइल लेनी है तो aap यहाँ से ले सकते है। 

6. रिव्यु। 


इसके  ऑप्शन का ज्यादातर  इस्तेमाल  तब किया जाता है जब आपने अपनी file  तैयार kar  ली हो और आपको ये देखना है की कोई स्पेलिंग mistake तो नहीं है। 

7. व्यू। 


ये आखिरी फंक्शन है मेनू का।  इसमें आपको  option मिलते है की आपको किस किस ऑप्शन को दर्शन है काम करते samay । 



एक्सेल कहा से सीखे?

About Ms excel in hindi



हमने एक्सेल के बारे में  इतनी सारी  बातें जनि चलिए अब ये जान लेते है की एक्सेल आप कहा कहा से सिख सकते है -

1.By Computer Institute . 


सबसे पहला और आसान तरीका ये है की अगर आपका aas pass me koi  कंप्यूटर इंस्टिट्यूट हो तो आप उसे ज्वाइन कर सकते है और एक्सेल सिख सकते hai  लेकिन ये आपको थोड़ा महंगा पढ़ सकता है और बहुत सारी ऐसी जगह भी है जहा पर ये institute नहीं है। 

2.  By Online courses . 


दूसरा तरीका जो है वो ऊपर wale  तरीके से आपको सस्ता पड़ेगा और वो है ऑनलाइन कोर्स खरीदकर अगर आपके पास एक लैपटॉप या मोबाइल फ़ोन है तो आप ऑनलाइन कोर्सेज से एक्सेल सिख सकते है।  इसके लिए इंटरनेट पर बहुत badi बड़ी इंस्टिट्यूट है जैसे -
Udemy 
Coursera 
Great learning . 

आदि और भी बहुत सारे है लेकिन हम आपको यही कहेंगे की आप उसी से सीखे jisse  आपको अच्छा लगे। 

3. By Books  . 


अगर आपको लगता है की आपको किसी टीचर की जरुरत नहीं है और आप खुद hiएक्सेल सिख सकते यही तो आप एक्सेल की बुक खरीद सकते है और उन्हें पढ़ कर भी आप एक्सेल sikh सकते है। 

4. By Youtube . 


अगर आपके पास पैसे नहीं है और आप फिर भी एक्सेल sikhna  चाहते है तो youtube से अच्छा ऑप्शन कोई हो ही नहीं सकता यहाँ पर आपको एक्सेल के वीडियो टुटोरिअल मिल जायेंगे jinse  आप एक्सेल  सिख सकते है। 


निष्कर्ष - आज आपने एक्सेल की सारी  जानकारी प्राप्त कर li hai या कहे तो about ms excel in hindi जान लिया है तो उम्मीद है आपको आज का humara ये आर्टिकल पसंद आया होगा अगर  आपके मन में कोई भी डाउट हो तो आप उसे कमेंट में पूछ सकते है आपका बहुत बहुत धन्यवाद। 









Post a Comment

नया पेज पुराने